विटामिन B12 के फायदे – 10 Vitamin B12 ke fayde in hindi

इस पोस्ट में हम बात करेंगे vitamin B12 ke fayde के बारे में।

विटामिन B12 को cobalamin भी कहा जाता है विज्ञान की भाषा में, विटामिन B12 ऐस विटामिन है जो कि हमारे शरीर के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है।

vitamin B12 को हमारा शरीर खुद से नहीं बना सकता इसलिए हमें इसे खाने के जरिए लेना पड़ता है।

विटामिन B12 मांस मछली और अन्य मांसाहारी चीजों में अच्छी मात्रा में पाया जाता है। अगर आप एक शाकाहारी व्यक्ति है तो आप इसेे टेबलेट या इंजेक्शन की मदद से भी ले सकते हैं।

हमारे शरीर के लिए विटामिन B12 बहुत ही महत्वपूर्ण है क्योंकि यह हमारे तांत्रिक कोशिका या नर्वस सिस्टम के काम करने के लिए बहुत ही जरूरी है साथ ही साथ यह विटामिन हमारे लाल रक्त कोशिकाएं या रेड ब्लड सेल्स (RBC) और डीएनए (DNA) को बनाने में मदद करता है।

1 दिन में कितना विटामिन B12 लेना चाहिए ?

एक आदमी को 1 दिन में 2.4 mcg विटामिन B12 लेना चाहिए, यह मात्रा गर्भवती और स्तनपान कराती महिलाओं के लिए थोड़ी अधिक होगी।

विटामिन बी 12 आपके शरीर को प्रभावशाली तरीके से लाभ पहुंचाता है, जैसे कि आपकी ऊर्जा को बढ़ाकर, आपकी याददाश्त में सुधार और हृदय रोग को रोकने में मदद करता है। तो चलिए बात करते हैं Vitamin B12 ke fayde के बारे में

विटामिन B12 के फायदे हिंदी में

1. लाल रक्त कोशिका (RBC) बनाने में मदद

विटामिन B12 लाल रक्त कोशिका बनाने के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है, इसकी कमी की वजह से शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की कमी होती है और लाल रक्त कोशिकाएं नहीं बन पाती ठीक तरीके से हमारे शरीर में।

सामान्य लाल रक्त कोशिकाएं छोटी और गोल होती है लेकिन वह आकार में बड़ी और अंडाकार हो जाती है विटामिन B12 की कमी की वजह से।

इस बड़े और अनियमित आकार के कारण, लाल रक्त कोशिकाएं बोन मैरो से उचित दर पर रक्तप्रवाह में जाने में असमर्थ होती हैं, जिससे मेगालोब्लास्टिक एनीमिया होता है।

जब आप एनेमिक होते हैं, तो आपके शरीर में आपके महत्वपूर्ण अंगों तक ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए पर्याप्त लाल रक्त कोशिकाएं नहीं होती हैं। यह थकान और कमजोरी जैसे लक्षण पैदा कर सकता है।

विटामिन बी 12 लाल रक्त कोशिका के निर्माण में शामिल रहता है। जब विटामिन बी 12 का स्तर बहुत कम होता है, तो लाल रक्त कोशिकाओं का उत्पादन बदल जाता है, जिससे मेगालोब्लास्टिक एनीमिया होता है।

2. गर्भवती महिला और बच्चे के लिए

गर्भ के अंदर पल रहे बच्चे के शरीर के विकास के लिए विटामिन B12 बहुत ही जरूरी है, यह बच्चे के दिमाग के विकास के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है।

गर्भवती महिला के लिए विटामिन B12 बहुत ही जरूरी है इसकी कमी होने की वजह से गर्भपात या समय से पहले बच्चे का जन्म होना शामिल है।

उपयुक्त विटामिन बी 12 का स्तर स्वस्थ गर्भावस्था के लिए महत्वपूर्ण है। यह बच्चे के मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी के जन्म दोषों की रोकथाम के लिए महत्वपूर्ण हैं।

3. ऑस्टियोपोरोसिस को रोकने में सहायक

कम खनिज घनत्व वाली हड्डियां समय के साथ नाजुक हो सकती हैं, जिससे ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा बढ़ जाता है।

विटामिन B12 आपके हड्डी के स्वास्थ्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभता है। इस विटामिन का निम्न रक्त स्तर ऑस्टियोपोरोसिस के बढ़ते जोखिम से जुड़ा हुआ है।

4. मैक्यूलर डीजनरेशन के जोखिम को कम करें

मैक्यूलर डिजनरेशन एक नेत्र रोग है जो मुख्य रूप से आपकी केंद्रीय दृष्टि को प्रभावित करता है।

विटामिन B12 के पर्याप्त स्तर को बनाए रखने से उम्र से संबंधित मैक्यूलर डिजनरेशन के जोखिम को रोकने में मदद मिल सकती है।

शोधकर्ताओं का मानना ​​है कि विटामिन B12 के सप्लीमेंट लेने से होमोसिस्टीन कम हो सकता है, यह एक प्रकार का एमिनो एसिड जो आपके रक्तप्रवाह में पाया जाता है।

अधिक होमोसिस्टीन का स्तर उम्र से संबंधित मैक्यूलर डिजनरेशन के बढ़ते जोखिम के साथ जुड़ा हुआ है।

5. मूड में सुधार

एक और Vitamin B12 ka fayda यह है कि वह हमारे मूड में सुधार लाता है

मूड पर विटामिन बी 12 का प्रभाव अभी तक पूरी तरह से समझा नहीं गया है । हालांकि, यह विटामिन मूड को विनियमित करने के लिए जिम्मेदार एक रासायनिक सेरोटोनिन को बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

इसलिए, विटामिन बी 12 की कमी से सेरोटोनिन उत्पादन में कमी हो सकती है, जिससे उदासी हो सकती है।

अध्ययन विटामिन b12 की कमी वाले लोगों में अवसाद के लक्षणों में सुधार के लिए विटामिन बी 12 की खुराक या सप्लीमेंट्स के उपयोग का समर्थन करता है।

6. मस्तिष्क में न्यूरॉन्स के नुकसान को रोकने में मददगार

विटामिन बी 12 की कमी स्मृति हानि (Memory loss) के साथ जुड़ी हुई है, खासकर बुजुर्गों में।

विटामिन B12 अच्छी मात्रा में रोजाना लेने से मस्तिष्क में न्यूरॉन्स के नुकसान में कमी आती है इसकी वजह से स्मृति हानि या मेमोरी लॉस नहीं होता।

7. एनर्जी को बढ़ाएं ( Energy boost )

विटामिन बी 12 की खुराक लंबे समय तक ऊर्जा की वृद्धि के लिए जाना जाता है ।

सभी विटामिन B आपके शरीर के ऊर्जा उत्पादन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, हालांकि वे आवश्यक रूप से खुद को ऊर्जा प्रदान नहीं करते हैं।

अगर आपको विटामिन बी 12 की कमी है, तो सप्लीमेंट लेने या इसके सेवन को बढ़ाने से आपके ऊर्जा स्तर में सुधार होगा।

वास्तव में, विटामिन बी 12 की कमी के सबसे आम शुरुआती लक्षणों में से एक थकान या ऊर्जा की कमी है।

8. दिल की सेहत में सुधार ( Improve Heart Health )

हमारे शरीर मेंं एक अमीनो एसिड पाया जाता है जिसका नाम है होमोसिस्टीन, इस अमीनो एसिड को दिल की बीमारियों से जोड़ा जाता है।

इसे अमीनो एसिड के बढ़ने की वजह से शरीर में दिल की बीमारियो का खतरा अधिक बढ़ जाता है।

अध्ययनों से पता चला है कि विटामिन बी 12 होमोसिस्टीन के स्तर को कम करने में मदद करता है, जिससे आपके हृदय रोग का खतरा कम हो सकता है

9. स्वस्थ बाल, त्वचा और नाखून

विटामिन B12 हमारे बालों तो अच्छा और नाखूनों के लिए बहुत ही जरूरी है अगर हमें मजबूत बनाए और नाखून चाहिए तो हमें रोजाना विटामिन B12 अपने आहार में शामिल करना चाहिए साथ ही साथ विटामिन b7 बायोटीन भी हमारे बाल और नाखूनों के लिए बहुत ही कारगर है।

10. हड्डी की मजबूती के लिए

हमारे शरीर में हड्डी की मजबूती के लिए विटामिन B12 भी एक खास भूमिका निभाता है। जिन लोगों में विटामिन B12 की कमी पाई जाती है उन लोगों में अक्सर हड्डियों से संबंधित परेशानियां देखी गई है।

विटामिन B12 की कमी कैसे होती है ?

विटामिन बी 12 की कमी दो तरीकों में से एक में हो सकती है। या तो आपके आहार में इसकी पर्याप्त मात्रा का अभाव है या आपका शरीर आपके द्वारा खाए गए भोजन से इसे पूरी तरह से अवशोषित करने में असमर्थ है।

कौन से लोगों में विटामिन B12 की कमी होती है ?

विटामिन बी12 की कमी अधिकतर बुजुर्गों में देखी जाती है, क्योंकि बढ़ती उम्र के साथ पेट में बनने वाले हाइड्रोक्लोरिक एसिड की मात्रा में भी कमी आ जाती हैै, जिसकी वजह से विटामिन B12 को अवशोषित करना मुश्किल हो जाता है।

अगर आपके शरीर में विटामिन B12 की अधिक कमी हो जाती है तो आपके डॉक्टर आपको सलाह देंगे विटामिन B12 के इंजेक्शन लगाने के लिए।

सारांश – Vitamin B12 ke fayde

विटामिन बी 12 एक पानी में घुलनशील विटामिन है जिसे आपको आहार के माध्यम से प्राप्त करना चाहिए। यह कई शारीरिक कार्यों के लिए जिम्मेदार है और आपके स्वास्थ्य को विभिन्न तरीकों से लाभ पहुंचाता है।

जैसे कि प्रमुख जन्म दोषों को रोकना (Birth defects), हड्डी के स्वास्थ्य का समर्थन करना(healthy bones), मूड में सुधार करना (good mood) और स्वस्थ त्वचा और बालों को बनाए रखना (healthy hair, skin and nails)।

आपको अपने खाने के जरिए विटामिन B12 लेना चाहिए लेकिन अगर आप किसी वजह से यह नहीं कर पा रहे हैं तो आप विटामिन B12 सप्लीमेंट्स भी ले सकते हैं।

आगे पढ़ें – प्रोटीन वाली सब्जी – 10 sabse jyda Protein wali sabjiyan in hindi

आगे पढ़े – Vitamin A ke fayde in hindi – विटामिन ए के 5 फायदे

Spread the knowledge

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *