Haldi wala dudh peene ke fayde – 10 फायदे हल्दी वाला दूध पीने के

नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत है Physio guide के एक नए पोस्ट पर यहां हम जानेंगे हल्दी वाला दूध पीने के 10 फायदे के बारे में।

हल्दी वाला दूध गाय या भैंस के गर्म दूध में हल्दी मिलाकर बनाया जाता है अगर आप चाहे तो उसमें दालचीनी और अदरक मिलाकर उसकी शक्ति दुगनी कर सकते हैं।

हल्दी वाला दूध पीने के बहुत से फायदे हैं जैसे कि चेहरे में निखार आना, हड्डी मजबूत होना, इम्यूनिटी बढ़ना इत्यादि आज हम हल्दी वाला दूध पीने के 10 फायदों के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे और साथ ही साथ यह भी जानेंगे कि हल्दी वाला दूध कैसे बनाते हैं ।

1. सूजन और जोड़ों के दर्द को कम करें

हल्दी के अंदर सूजन कम करने का एक बहुत ही अच्छा गुण पाया जाता है। हल्दी का यह गुण और भी बहुत सारी बीमारियों को ठीक करने में मददगार है जैसी की अल्जाइमर और दिल की बीमारियां।

सूजन कम करने वाले गुण जोड़ों के दर्द को ठीक करने में मदद करते हैं, ओस्टियो आर्थराइटिस और रुमेटीइड अर्थराइटिस में।

हल्दी वाले दूध में मुख्य सामग्री लगती है वह है हल्दी, अदरक और दालचीनी जिसके अंदर सूजन कम करने और जोड़ों के दर्द को कम करने की शक्ति होती है।

2. एंटी बैक्टीरियल, एंटी वायरल और एंटी फंगल गुण पाए जाते हैं

भारत में हल्दी वाले दूध को सर्दी होने पर इस्तेमाल किया जाता है साथ-साथ इसे एक पहुंची अच्छा इम्यूनिटी बढ़ाने वाला दूध माना जाता है।

एक स्रोत से पता चला है दालचीनी मिलाकर हल्दी वाला दूध पीना बहुत ही फायदेमंद है क्योंकि दालचीनी के अंदर एंटी बैक्टीरियल, एंटी वायरल, और एंटी फंगल गुण पाए जाते हैं जो कि हमारे शरीर को इंफेक्शन से लड़ने में मदद करते हैं।

हल्दी वाले दूध में अदरक मिलाकर पीने से शरीर में पनपने वाले हानिकारक बैक्टीरिया से लड़ने में मदद मिलती है खासकर श्वास प्रणाली में पनपने वाले वायरस और बैक्टीरिया से।

वह सभी सामग्री जो हल्दी वाले दूध में मिलाए जाते हैं उनमें अच्छी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट और सूजन कम करने के गुण होते हैं जो कि हमारे शरीर को इम्यूनिटी प्रदान करते हैं।

3. पाचन तंत्र को मजबूत करें

अदरक और हल्दी जब दूध में मिलाकर हम पीते हैं तो वह हमारे पाचन तंत्र को मजबूत करता है और अच्छे से खाने को पचाने में मदद करता है इससे बहुत सी बीमारियों से बचा जा सकता है।

एक स्रोत से पत चला है कि हम जब हल्दी वाला दूध पीते हैं तब उससे बड़ी आंत में सूजन का खतरा भी कम होता है जिसे की अल्सरेटिव कोलाइटिस भी कहा जाता है।

4. एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर रहता है

हल्दी वाले दूध में सबसे महत्वपूर्ण चीज होती है हल्दी जो कि हमारे आयुर्वेदा में हजारों सालों से चली आ रही है बीमारियों को ठीक करने के लिए।

हल्दी के अंदर अच्छी मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं जो कि हमारे शरीर को ठीक से काम करने में मदद करते हैं। एंटीऑक्सीडेंट हमारे शरीर के सेल्स को किसी भी बीमारी या अन्य कारणों से होने वाले सेल्स के छती से बचाता है।

एंटीऑक्सीडेंट्स हमारे शरीर को ठीक से काम करने और मजबूर बनाए रखने के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है।

5. दिमाग के लिए फायदेमंद है

हल्दी वाला दूध हमारे दिमाग के लिए भी काफी फायदेमंद है। हल्दी वाले दूध के अंदर बहुत से ऐसे गुण पाए जाते हैं जिससे हमारा दिमाग तेज और मजबूत होता है और हमारी सोचने समझने की शक्ति और भी अधिक तेज हो जाती है।

हल्दी वाला दूध पीने से हमारे दिमाग में नए सेल्स की बढ़ोतरी होती हैै और हमारा दिमाग और भी अच्छे से काम करने लगता है।

साथ ही साथ दिमाग से जुड़ी हुई बहुत सी बीमारियों का खतरा भी कम हो जाता है जैसे कि अल्जाइमर और पार्किंसन रोग।

6. मूड को ठीक करने में मददगार

हल्दी में पाया जाने वाला एक पदार्थ होता है जो हमारे मूड को ठीक करने में बहुत ही बहुत काम है वह पदार्थ हमारे दिमाग को अच्छा महसूस करवाता है और बुरे ख्यालों और डिप्रेशन से दूर लेकर जाता है।

जिन लोगों को डिप्रेशन और खराब मूड की परेशानी है उन लोगों के लिए हल्दी वाला दूध काफी फायदेमंद है।

7. दिल की बीमारियों से बचाता है

दुनिया में सबसे अधिक मौत दिल की बीमारियों की वजह से होती है और दिल की बीमारियों को कम करने में हल्दी वाला दूध बहुत ही फायदेमंद है क्योंकि हल्दी वाला दूध के अंदर वह तीनों चीज पाई जाती है जो कि दिल की बीमारियों का खतरा कम करती है और वह चीजें हैं दालचीनी, हल्दी और अदरक।

दालचीनी को सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है दिल की बीमारियों से बचने के लिए और इलाज करने के लिए। क्योंकि इसके अंदर anti-inflammatory और एंटीऑक्सीडेंट अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं जो कि दिल की बीमारियों का खतरा कम करने में मददगार है।

8. ब्लड शुगर कम करने में सहायक

दालचीनी और अदरक दो मुख्य चीजें हैं हल्दी वाले दूध में जोकि ब्लड शुगर को कम करने में मददगार है।

करीब 5-6 ग्राम दालचीनी रोजाना लेने से हमारा ब्लड शुगर 20 से 30 परसेंट कम हो जाता हैं क्योंकि दालचीनी इन्सुलिन रेजिस्टेंस को कम कर देता है। इसकी वजह से जब हम भोजन लेते हैं तो उसमें से निकलने वाला शुगर हमारे ब्लड में एक सीमित मात्रा में ही मिलता है ज्यादा नहीं।

इसी तरह, नियमित रूप से अपने आहार में थोड़ी मात्रा में अदरक को शामिल करने से उपवास रक्त शर्करा के स्तर को 12% तक कम करने में मदद मिल सकती है।

अगर आप शुगर पेशेंट हैं तो आपको ऐसा नहीं करना चाहिए अगर आपको अपना ब्लड शुगर कम करना है तो आप बिना शक्कर और शहद वाला हल्दी वाला दूध पिए तभी आपको फायदा होगा।

9. कैंसर के रिस्क को कम करें।

हल्दी वाला दूध कैंसर के रिस्क को कम करने में भी मदद करें क्योंकि हल्दी में पाए जाने वाले गुण कैंसर को बढ़ने से रोकता हैं साथ ही साथ अदरक और दालचीनी में भी बहुत से ऐसे गुण पाए जाते हैं जो कि कैंसर को बढ़ने से रोकते हैं।

10. त्वचा में निखार लाएं

त्वचा को कोमल, सुनहरा और खिला खिला बनाने के लिए अक्सर चेहरे और शरीर में हल्दी का उपयोग किया जाता है वैसे ही जब हम हल्दी वाला दूध पीते हैं तब उससे हमारी त्वचा अंदर से खिलती है और हमें निखरी हुई त्वचा देखने को मिलती है।

सारांश

यह थे हल्दी वाला दूध पीने के फायदे। हल्दी वाला दूध बहुत ही स्वादिष्ट और एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर है जो कि हमें प्रदान करता है अच्छी सेहत, मजबूत हड्डी, तेज दिमाग, स्वस्थ दिल, अच्छी पाचन शक्ति और मदद करें दूसरी बीमारियों के खतरे को कम करने में।

अगर आप सभी वाले दूध में कैल्शियम और विटामिन डी के कैप्सूल के साथ लेते हैं तो वह और फायदेमंद साबित हो सकता है।

Vitamin A ke fayde in hindi – विटामिन ए के 5 फायदे

विटामिन B12 के फायदे – 10 Vitamin B12 ke fayde in hindi

Spread the knowledge

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *